Friday, August 15, 2008

आज़ादी की पहचान तिरंगा

एक कविता के माध्यम से तिरंगा की महत्ता



आज़ादी की पहचान तिरंगा

जय हिन्द जय भारत माता
इनसे अपना गहरा नाता
तिरंगा अपनी है पहचान
भारत की ऊँची है शान
तीन रंग इसको सजाते
सब अपना मतलब समझाते
रंग केसरी बलिदानी का
और वीरों की कुर्बानी का
शान्ति का प्रतीक सफेद
नहीं किसी से कोई भेद
हरा रंग लाए हरियाली
भारत मे छाए खुशहाली
आज़ादी के तीनो रंग
जय हिन्द मिलकर बोलो संग
जय भारत सब मिलकर गाएँ
आओ आज़ादी दिवस मनाएँ

आज़ादी दिवस की सभी हिन्दवासियो को हार्दिक बधाई जय हिन्द

रचनाकार- सीमा सचदेव


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

3 पाठकों का कहना है :

mahendra mishra का कहना है कि -

आपको स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन की हार्दिक बधाई और शुभकामना.

Udan Tashtari का कहना है कि -

स्वतंत्रता दिवस की बहुत बधाई एवं शुभकामनाऐं.

sumit का कहना है कि -

सीमा जी,
बहुत ही सुन्दर शब्दो मे आपने तिरंगे के तीनो रंगो का अर्थ बता दिया

तिरंगे के चक्र के बारे मे कहना चाहूँगा ये अशोक चक्र है, ये गतिशीलता को दर्शाता है यानि जीवन मे गतिशील रहना चाहिए
और ये धर्म और सत्य को भी दर्शाता है

सुमित भारद्वाज।

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)