Tuesday, February 26, 2008

रंग बिरंगी दुनिया दीदी की पाती

नमस्ते हैं सबको ,

क्या आप जानते हैं कि सेब या टमाटर लाल क्यों दिखते हैं ? घास का रंग हरा क्यों होता है?कभी सोचा आपने? यह सब होता है सूरज के प्रकाश के कारण सूर्य का प्रकाश सात रंगों का मिश्रण है इसके प्रकाश को प्रिज्म से अलग किया जा सकता है .किसी वस्तु का रंग इस बात पर निर्भर करता है कि उस वस्तु से सूर्य का कौन सा रंग परिवर्तित हो कर हमारी आंखों तक पहुँच रहा है !सेब या टमाटर का रंग इस लिए लाल दिखायी देता है क्यूंकि इनके द्वारा सूर्य के प्रकाश में से लाल रंग परवर्तित कर दिया जाता है और शेष रंग सोख लिए जाते हैं .इसी प्रकार घास हरे रंग को परवर्तित कर देती है और शेष रंग को सोख लेती है ..कोई वस्तु इस लिए सफ़ेद दिखायी देती है कि वह सभी रंगो को परवर्तित कर देती है और जब कोई वस्तु सूर्य के प्रकाश के सभी रंगो को अवशोषित कर लेती है तो उसका रंग काला दिखायी देता है

पत्तियों का रंग हरा क्लोरोफिल के कारण दिखायी देता है पर जब पत्तियां नई होती है तो इस में एन्थ्रोसाइनिन नामक रंगीन पद्रार्थ पाया जाता है जिसके कारण यह उस वक्त गुलाबी रंग की होती हैं.... कलोरोफिल की सरंचना ऐसी होती है की यह सूर्य के प्रकाश के सभी रंगो का अवशोषण कर लेता है केवल हरे रंग का अवशोषण नही होता है जिसके कारण पत्तियों का रंग हरा दिखायी देता है

और आकाश का नीला रंग नीला क्यों होता है ? जानते हैं क्या आप ? सूर्य के प्रकाश में सात रंग होते हैं यह तो आप जान गए अब कौन कौन से रंग हैं यह..बेंगनी,जामुनी नीला .हरा ,पीला .संतरी और लाल ..जब सूर्य का प्रकाश वायुमंडल से होते हुए धरती पर पड़ता है तो वायुमंडल मैं पाये जाने वाले धुल के कणों के कारण इन साथ रंगो का विकिरण हो जाता है इन में से बेंगनी, ,जामुनी और नीले रंग का विकिरण सबसे ज्यादा होता है और लाल रंग का सबसे कम .बेंगनी जामुनी और नीला यदि तीनो मिला दे तो नीला रंग ही सामने आएगा इस लिए आकाश का रंग नीला दिखायी देता है ..हाँ यदि धरती के चारों और वायुमंडल न होता तो आकाश का रंग काला दिखता यदि हम चांद से आकाश देखे तो वह हमे काला दिखायी देगा क्यूंकि चाँद पर वायुमंडल नही है ..

तो अब आपने जाना कि हमारी दुनिया रंग बिरंगी कैसे दिखती हैं ..

फ़िर मिलते हैं नई रोचक जानकारी के साथ , आप अपना ध्यान रखे और अपनी परीक्षा ध्यान से दे !!

आपकी दीदी रंजू


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

6 पाठकों का कहना है :

seema gupta का कहना है कि -

"रोज की भागदौड़ मे हम ऐसी सब महत्वपूर्ण बातों को भूल जातें है , आपके इस तरह की रोचक जानकारी हमेशा हमे अपडेट कर देती है "
Regards

राजीव रंजन प्रसाद का कहना है कि -

रोचक और रंग-बिरंगी जानकारी :)

*** राजीव रंजन प्रसाद

sahil का कहना है कि -

क्या बात है,बहुत अच्छी जानकारी,अच्छा है.
आलोक सिंह "साहिल"

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ का कहना है कि -

रंजू जी, आपकी हर पाती बहुत ही सरल और प्रभावकारी होती है। बहुत-बहुत बधाई।

Bhupendra Raghav का कहना है कि -

रंजना जी बहुत सुन्दर सुन्दर जानकारियाँ संजोकर लाती है आपकी पाती..

हार्दिक शुभकामनायें..

अजय यादव का कहना है कि -

चलिये आज हमें भी पता चल गया दुनिया की रंगीनी का राज! शुक्रिया, रंजना जी!

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)