Tuesday, March 18, 2008

क्या आप जानते हैं..दीदी की पाती

शुभ प्रभात ..

दीदी की पाती लाती है आप सब के ढेर सारी नई जानकारी .. जिसमें कभी होती हैं रोचक बातें ,कभी कोई संदेश देती कहानी और कभी कोई सुंदर सी बाल कविता ...और इस सब जानकारी को लिखने में ...आप तक पहुंचाने में मेरी कोशिश यही रहती है कि आप सब के साथ मैं वह सब बाँट सकूं जो मैं पूरे हफ्ते खोज करके आपके लिए लाती हूँ ताकि हर बार कोई नई जानकारी इस पाती में जुड़ सके ...यदि आप सब भी कोई नई जानकारी या सुझाव देना चाहे तो आप सब का हार्दिक स्वागत है ..इस बार की पाती में हैं कुछ और नई रोचक बातें ...

क्या आप जानते हैं ...


1.मनु प्रकाश जिंदल जो जालंधर के रहने वाले हैं ....उनको कई प्रकार के समाचार पत्र इकटठा करने का शौक है उन्होंने इस का एक संग्रहालय बना रखा है जिसमें 3000 से भी अधिक 40 भाषा में समाचार पत्र हैं वह इन्हे एक विशेष प्रकार की पेटी में सुरक्षित रखते हैं इस में राष्ट्रीय .अन्तराष्ट्रीय ,प्रांतीय सभी प्रकार के समाचार पत्र हैं !!


2.न्यूयार्क टाइम्स संसार का सबसे बड़ा अख़बार है यह अफ्रीका में प्रकाशित होता है
इसका इतवार को आने वाले पेपर में 780 पेज होते हैं और इसका वज़न 3 किलो का होता है यह
अख़बार सारे संसार की समाचार प्रकाशित करता है !!


3.लंदन में पुलिस वालो को बाबबीज कहते हैं जबकि अमरीका पुलिस को
काप्स कहते हैं ....


4 छिपकली कभी पानी नही पीती यह जो कीड़े मकोड़े खाती है उसी से
अपनी प्यास बुझाती है !!

5.पेरू में रेलवे का सबसे उँचा रेलवे स्टेशन है यह अपनी मुख्य लाइन का सबसे उँचा स्थान है इसकी समुद्रतल से उँचाई 15.868 है!!

.6 पहला शब्दकोष सबसे पहले लेटिन भाषा में १२२५ में बना था शब्दकोश वह होता है जिसमें
शब्दों के अर्थ के साथ शब्द बोलने के उच्चारण पर भी बताया जाता है इसका मौलिक शब्द
डिक्शनरी है जिसका अर्थ होता है शब्दों का संग्रह वर्ष १५५२ में सबसे पहले अंग्रेजी डिक्शनरी प्रकाशित हुई थी!!
--

कैसी लगी आप को यह जानकारी ..अपने विचार और कुछ नए सुझाव या कोई और ऐसी रोचक जानकारी आपके पास भी हो तो जरुर हमारे साथ बांटे ..अपना ध्यान रखे

आपकी दीदी

रंजू


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

4 पाठकों का कहना है :

anju का कहना है कि -

रंजू दीदी आपकी पाती मुझे बहुत अच्छी लगती है
आपकी ज्ञान की बातें बहुत ही रोचक होती है
बेहद खूबसूरत

seema sachdeva का कहना है कि -

aapki bachcho ke liye hi nahi balki bado ke liye bhi gyaan vardhak baate bahut pasand aai.....seema sachdev

Bhupendra Raghav का कहना है कि -

पाती आती सदा आपकी लेकार नये नये रंग
प्यारी प्यारी जानकारी और नवेले ढंग
आपकी पाती दुनियाँ भर की जैसे बाइसकोप
कहीं पुलिस को बाबबीज कहते कहीं पर कहते कोप
कहाँ पर छपता है कितना कैसा कैसा अखबार
बहुत सारी जानकारी मिलती है हर बार..

आइ मीन टू से.. आपका आभार..

बरबाद देहलवी का कहना है कि -

बच्चों के सामान्य ग्यान को बडाने का बहुत ही रोचक तरीका निकाला है रंजना जी आपने बहुत बहुत धन्यवाद

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)