Thursday, March 20, 2008

आ गयी होली प्यारी प्यारी



आ गयी होली प्यारी प्यारी
सबने ली होगी पिचकारी
लेकिन कुछ बातों को बच्चो
ध्यान से सुनना आज हमारी



तेज रंग कैमिकल वाले
पिचकारी में कोई ना डाले
इनसे होता है नुकसान
जले त्वचा और पड़े निशान



और अगर भरकर गुब्बारे
हमने एक-दूजे पर मारे
चोट लगा सकते हैं ये सब
इस्तेमाल ना इनका हो अब



टेसू पलाश और फूलों के रंग
जमकर खेलो होली संग-संग
प्रेम से सबको गले लगाना
मिठाई बाँटकर पर्व मनाना



क्या छोटा क्या बड़ा सभी का
प्रेम भाव से करना टीका
ऊँच नीच का भेद मिटाना
ही असली त्योहार मनाना



शुभ-होली...


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

9 पाठकों का कहना है :

seema sachdeva का कहना है कि -

bhupendar ji holi ke shubh avasar par aapki kavita sachmuch rang birangi chata bikher rahi hai aur seekh bhi badi achchi hai ,bachcho ko hi kyo ,bade bhi to rango ka istemaal jee bhar ke karte hai ,ham sabko samjhana chaahiye. HAAPY HOLI .....Seema Sachdev

Alpana Verma का कहना है कि -

तेज रंग कैमिकल वाले
पिचकारी में कोई ना डाले
इनसे होता है नुकसान
जले त्वचा और पड़े निशान

बच्चों को न केवल होली की बधाई बल्कि सही सीख भी साथ दे रही है आप की कविता.
सुंदर रंग -बिरंगी कविता.

शोभा का कहना है कि -

वाह राघव जी!
खूब अच्छी शिक्षा दी । होली की शुभकामनाएँ ।

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ का कहना है कि -

शुभ विचार हैं। होली पर इन बातों का ध्यान रखना आवश्यक है, तभी हम होली का सही आनन्द ले सकते हैं।

Udan Tashtari का कहना है कि -

शिक्षाप्रद..होली की ढेर सारी शुभकामनाएँ.

anju का कहना है कि -

तेज रंग कैमिकल वाले
पिचकारी में कोई ना डाले
इनसे होता है नुकसान
जले त्वचा और पड़े निशान
सही में राघव जी बिल्कुल ठीक कहा आपने
बच्चो को इससे अवगत कराने के साथ साथ प्यार से मनाने की शिक्षा भी देती है आपकी कविता
बहुत बडिया

बरबाद देहलवी का कहना है कि -

होली के रंगों मे डूबी एक संदेशात्मक और शिक्षाप्रद
रचना है बधाई हो राघव जी

रंजू का कहना है कि -

होली की बधाई .बहुत ही सुंदर शिक्षा देती हुई कविता है राघव जी यह !!

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ का कहना है कि -

बहुत सुन्दर भाव हैं।
"क्या छोटा क्या बड़ा सभी का
प्रेम भाव से करना टीका
ऊँच नीच का भेद मिटाना
ही असली त्योहार मनाना"
बहुत-बहुत बधाई।

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)