Monday, January 26, 2009

गणतंत्र दिवस पर चली छोटी कूची





प्रणव गौड़, ६ वर्ष


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

5 पाठकों का कहना है :

manu का कहना है कि -

आईला ...
मजा आ गया बेटे ..नन्हीं ब्रश से कमाल कर दिया..
खुश रहो....

रंजन का कहना है कि -

्मजा आ गया.. अपना बचपन याद आ गया..

विनय का कहना है कि -

गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ

---आपका हार्दिक स्वागत है
गुलाबी कोंपलें

neelam का कहना है कि -

अले वाह ,
आप को तो सब कुछ पता है औल एक बात तुम तो बहुत अच्छे चित्ल्काल (चित्रकार ) भी हो ,अगली बाल से आप को भी आना है ,रोहिणी में प्रतियोगिता में भाग
लेने के लिए ,वेली गुड
नीलम आंटी

sumit का कहना है कि -

वाह कुश(प्रणव)
बहुत अच्छी चित्रकारी की आपने और आपको तो बहुत कुछ पता है गणतंत्र दिवस के बारे में, ऐसे ही पढते रहना और होनहार बच्चे बनना

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)