Saturday, January 31, 2009

माँ सरस्वती की स्तुतियाँ

सरस्वती को ज्ञान, संगीत और कला की देवी माना जाता है। सरस्वती की एक पहचान ब्रह्मा की पत्नी के रूप में भी है। सरस्वती वैदिक युगीन नदी के रूप में पूजी जाती हैं। भारत में माघ महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी को मदनोत्सव, कामोत्सव, वसंतोत्सव के साथ-साथ सरस्वती पूजा के रूप में भी मनाने की परम्परा है। स्थान-स्थान पर सरस्वती की मूर्ति स्थापित कर श्रद्धालु यह प्रार्थना करते हैं कि दुनिया में ज्ञान का राज हमेशा कायम रहे।

सरस्वती की महत्ता इसलिए भी अधिक है क्योंकि वैदिक मतों के अनुसार आदिशक्ति (नारायणी या दुर्गा) के तीन रूपों में एक रूप महा सरस्वती का भी है।

बाल-उद्यान की नियमित पाठिका पाखी मिश्रा (कक्षा ६, बाल भारती पब्लिक स्कूल) ने माँ सरस्वती की वंदना का वीडियो यू ट्यूब से खोज निकाला है। आप भी देखें-






आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

3 पाठकों का कहना है :

शोभा का कहना है कि -

वाह पाखी
बहुत अच्छा काम किया। माँ सरस्वती सदा तुम पर अपनी कृपा बनाए रखें।

manu का कहना है कि -

बहुत खूब बेटा......
बहुत होनहार हो तुम....जो इतना कर लेती हो....
इतना सोच लेती हो........
मेरी आशीष ..........

तपन शर्मा का कहना है कि -

वाह पाखी... कहाँ से खोज निकाले ये श्लोक...
जब भी श्लोक सुनता तो मन में कहीं अंदर तक असर होता है...
मजा आ गया... :-)

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)