Wednesday, May 6, 2009

सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान की सैर

सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान भारत का एक प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान हैं । आओ आज हम सरिस्का की सैर करते है

सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान अरावली पहाडियों के बीच, राजस्थान के अलवर जिला में स्थित है जंगल से भरी घाटी को उजाड़ पर्वतमालाओं ने घेर रखा है। यह उद्यान जयपुर से मात्र 110 किमी और दिल्ली से 200 किमी की दूरी पर है।

यहाँ विभिन्न किस्म के प्राणी और पशु-पक्षी पाए जाते हैं जैसे कि बाघ, तेंदुआ, लकड़बग्घा, जंगली बिल्ली, साही, साँभर, चिंकारा, नीलगाय और चार सींगों वाले बारहसिंगे।








इस पार्क में बहुत से मंदिरों के अवशेष भी हैं।


हरे भरे जंगल और पशु - पक्षियों के सुंदर नज़ारे सरिस्का की सैर को अत्यंत मनमोहक बना देते हैं

- सीमा कुमार


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

7 पाठकों का कहना है :

तपन शर्मा का कहना है कि -

waah.. aapne बाघ, तेंदुआ, लकड़बग्घा dekha kya wahaan? safaari par gaye the?

आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल' का कहना है कि -

चलो सरिस्का...

हरा-भरा सुन्दर उद्यान,
नील गगन का तना वितान.
शीतल मंद समीर बहे,
वानर धरकर धीर कहे-
''आओ! घूमो होकर शांत.
भूलो अपना शहर अशांत.''
अरावली पर्वत के बीच,
अलवर-भरतपुर नजदीक.
बाघ-तेंदुए से बचना.
नाचे मोर, मौन तकना.
साम्भर-चिंकारा सोहे.
साही-नीलगाय मोहे.
लक्कड़बग्घा ताक़ रहा.
बारहसिंगा भाग गया.
मधुमक्खी से दूर रहो.
मारे डंक न दर्द सहो.
मन्दिर में प्रभु-ध्यान करो.
खूब सरिस्का में विचरो..

महामंत्री - तस्लीम का कहना है कि -

अरे वाह, मजा आ गया फोटो देखकर।

SBAI TSALIIM

neelam का कहना है कि -

सरिस्का की सैर करके वाकई मजा ही आ गया है ,
हम भी वहां घूमने का मन बना रहें हैं |
सरिस्का के बारे में जानकारी और वहाँ के सुन्दर द्रश्यों को हमारे साथ बाटने का बहुत बहुत शुक्रिया ,आगे भी ऐसे ही अच्छी -अच्छी जगह हमे घुमाते रहिये please .

शैलेश भारतवासी का कहना है कि -

आजकल आप विवरण कम लिखती हैं। पहले आप चित्रों के साथ थोड़ा अधिक विवरण देती थीं। वह भी ज़रूरी है।

sangeeta sethi का कहना है कि -

seemaji ne ghar baithe hi sariska ki sair karwa di

vinita का कहना है कि -

nice quality

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)