Thursday, November 13, 2008

बूझो तो जानें....

1. तीन राह और पहिया एक
फूले सीना इसको देख

2. गहरा सागर नीला पानी
मछली तैर रही मन मानी
कांटे मे फँस गयी मगर
घूमे तनिक इशारे पर

3. एक चोर ऊपर से आया
मेरे टकले पर टकराया
सर फूटा तो पकड लिया
कस मुट्ठी में जकड़ लिया
माँ को मैंने जब दिखलाया
चोर हाथ से गायब पाया

4. मुझमें रस है भरा पडा
राह निहारूँ खड़ा खड़ा
मैं प्यारा हूँ हाथी को
बूझो अपने साथी को

5. पैर नहीं पर चलता हूँ
नयी नयी बात उगलता हूँ
पढे लिखों का मैं हथियार
मेरा नाम बताओ यार


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

7 पाठकों का कहना है :

Seema Sachdev का कहना है कि -

लाजवाब भुपेन्द्र जी...
१. नारियल
२. हवाई जहाज / चन्द्रयान
३.पैसा ( i am not sure )
४.गन्ना
५.कलम /पेन
अब लाओ मेरी चॉकलेट ....:)

भूपेन्द्र राघव । Bhupendra Raghav का कहना है कि -

सीमा जी.....
10 मे से आपको मिलते हैं 4
आपने कोशिश की आपका आभार
सोचते रहिये बारम्बार...
फिलहाल के लिये नमस्कार !

चॉकलेट.. ह्म्म्म्म्म

आजकल चॉकलेट का माह है
तो सबको चॉकलेट की चाह है..

अवश्य मिलेगी बच्चा....
तथास्तु..

neeti sagar का कहना है कि -

मैं कोशिश करती हूँ!१-जलेबी २-रसगुल्ले ३- ओला ४-गन्ना ५- कलम या अखवार

शोभा का कहना है कि -

mujhe paheliyan nahin aati. tum chaho to zero de do :)

तपन शर्मा का कहना है कि -

पहेलियाँ बहुत घुमावदार हैं..
दिमाग पर चोट असरदार है!!!
तिरंगे को देख फूलता मेरा सीना,
हाथी को गन्ने से प्यार है...
दो के जवाब फिलहाल आते नहीं..
कलम मेरा हथियार है!!!
भूपेंद्र जी, ये तो मजाक मजाक में
गज़ल जैसी कुछ चीज़ हो गई तैयार है... :-)

रंजना [रंजू भाटिया] का कहना है कि -

१ हमारा तिरंगा झंडा प्यारा

२ चंद्रयान

३ ओले

४ गन्ना

५ कलम ..

अब बताओ यह पास के नंबर है या फ़ेल हो गए हम :)

Seema Sachdev का कहना है कि -

wow.........दस मे से चार
मतलब पप्पु पास
आज का दिन क्या है खास
राघव जी करो विश्वास
नही की मैने कोई नकल
दौडाई अपनी अक्ल
नही है हम लम्बी रेस के घोडे
जितनी हिम्मत(अक्ल)थी ,उतना दौडे
अब आप बताओ,वो शक्ति (दिमाग)कहाँ से लाएँ
जो आपकी पहेलियो के हल बताएँ

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)