Tuesday, February 12, 2008

ज़ाकिर अली 'रजनीश' को बाल साहित्य पुरस्कार

हिन्दी सभा, सीतापुर, उ0प्र0 (भारत) के 64वें वार्षिकोत्सव के अवसर पर वसंत पंचमी, 11 फरवरी 2008 को आयोजित समारोह में 'बाल साहित्य का वर्तमान परिदृश्य' विषयक गोष्टी का आयोजन किया गया, जिसमें युवा रचनाकार एवं ब्लॉगर जाकिर अली 'रजनीश' ने इन्टरनेट पर उपलब्ध बाल साहित्य के विषय में अपने विचार रखे। उन्होंने इस सम्बंध में 'बाल उद्यान' एवं 'बाल मन' द्वारा किये जा रहे विशेष प्रयासों की चर्चा की। उन्होंने इन्टनेट पर प्रकाशित होने वाली हिन्दी की विभिन्न पत्रिकाओं की चर्चा की, जिसमें बाल साहित्य को भी स्थान प्रदान किया जाता है। इस सम्बन्ध में उन्होंने हिन्द युग्म, अभिव्यक्ति, रचनाकार, सृजनगाथा, हिन्दी नेस्ट, कृति, बी0बी0सी0 डॉट कॉम आदि का विशेष रूप से उल्लेख किया। इस अवसर पर श्री रजनीश को उनके बाल साहित्य सम्बंधी समग्र योगदान के लिए 'बाल साहित्य पुरस्कार' से भी सम्मानित किया गया। सम्मान स्वरूप उन्हें शाल उढ़ाकर श्रीफल प्रदान किया गया। साथ ही उन्हें प्रतीक चिन्ह, प्रशसित पत्र एवं रू0 ग्यारह सौ नकद भी प्रदान किये गये।


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

11 पाठकों का कहना है :

रंजू का कहना है कि -

बहुत बहुत बधाई रजनीश जी !!

Bhupendra Raghav का कहना है कि -

बाल-साहित्य सृजक को कोटिशः बधाईयाँ

बहुत बहुत बधाई रजनीश जी..

arvind mishra का कहना है कि -

congrats to Zakir !!

Alpana Verma का कहना है कि -

रजनीश जी 'बाल साहित्य पुरस्कार'के लिए आप को बहुत बहुत बधाई

Om का कहना है कि -

खूब बधाइयाँ, मेरी तरफ से भी !!!

दिवाकर मिश्र का कहना है कि -

हिन्दी सभा सीतापुर की ओर से ज़ाक़िर अली रजनीश को दिये गए बाल साहित्य पुरस्कार के लिए बधाई हो ।
सीतापुर की बात कभी कभी ही बड़े परिदृश्य में आ पाती है ।
इसलिए पढ़कर खुशी हुई कि वहाँ भी इस दिशा में अब भी सक्रिय क्रियाकलाप चल रहे हैं । वैसे मैं बचपन से ही इस संस्था की सक्रिय भूमिका देखता रहा हूँ ।

अजय यादव का कहना है कि -

बधाई रजनीश जी !!

sahil का कहना है कि -

बधाई हो भाई साहब
आलोक सिंह "साहिल"

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ का कहना है कि -

मित्रों, आप सबकी बधाईयों हेतु आभार। यह सब आप जैसे स्नेही जनों की शुभकामनाओं का ही प्रतिफल है।

tanha kavi का कहना है कि -

ज़ाकिर जी को ’बाल साहित्य पुरस्कार’ के लिए बहुत-बहुत बधाई!

आलोक शंकर का कहना है कि -

रजनीश जी,
वेल डिसर्व्ड । बधाई ।

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)