Monday, September 15, 2008

मॉडर्न स्कूल, फरीदाबाद ने मनाया हिन्दी-सप्ताह



हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य में मॉडर्न स्कूल फरीदाबाद सैक्टर १७ में हिन्दी सप्ताह मनाया गया। मॉडर्न स्कूल सैक्टर १७ फरीदाबाद ने हिन्दी भाषा को सम्मान देने के लिए ८ सितम्बर से १२ सितम्बर २००८ को हिन्दी सप्ताह के रूप में मनाया। कार्यक्रम का शुभारम्भ ८ सितम्बर को शहर के लोकप्रिय कवि विकेश बेनीवाल जी ने किया। इस अवसर पर विद्यालय में भाषण प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। यह प्रतियोगिता २ वर्गों में हुई। कनिष्ठ वर्ग में कक्षा सात के रजत प्रथम रहे तथा कक्षा ६ की महिमा द्वितीय रही। वरिष्ठ वर्ग में कक्षा नवम की तृषा शरण प्रथम रही तथा उसी कक्षा के रजत द्वितीय रहे। तृतीय स्थान कक्षा ग्यारह के नवनीत को मिला। ९ सितम्बर को कक्षा ४ और ५ के लिए कविता प्रतियोगिता हुई। इसमें उमंग प्रथम और कीर्ति द्वितीय रही। १० सितम्बर को अन्त्याक्षरी प्रतियोगिता हुई । इसमें शान्ति सदन प्रथम तथा अहिंसा सदन द्वितीय रहा। ११ सितम्बर को अन्तर्विद्यालय प्रतियोगिताएँ हुई।
१ हिन्दी हास्य कविता पाठ प्रतियोगिता
२ हिन्दी श्रुतलेख
३ हिन्दी निबन्ध प्रतियोगिता
इस दिन हिन्द-युग्म से शिवानी सिंह जी मुख्य अतिथि रहीं। तथा शहर के राजकीय माध्यमिक कन्या विद्यालय की हिन्दी अध्यापिका तथा कवयित्री श्रीमती कुमकुम भडाना जी ने निर्णायक का भार संभाला। इन प्रतियोगिताओं में फरीदाबाद शहर के १२ स्कूलों ने भाग लिया।
हास्य कविता प्रतियोगिता में मॉडर्न स्कूल के रवि कपूर ने शैल चतुर्वेदी की चल गई कविता सुना कर श्रोताओं को लोटपोट कर दिया। मॉडर्न स्कूल की ही तृषा शरण ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया ।
श्रुतलेख में मॉडर्न विद्यानिकेतन के बच्चों का प्रदर्शन प्रशंसनीय रहा। मॉडर्न स्कूल नाएडा तथा के एल मेहता का प्रदर्शन अच्छा रहा ।
मंच संचालन का भार शोभा महेन्द्रू के नेतृत्व में कक्षा दस की मेघा तथा श्वेता ने संभाला। १२ सितम्बर को वरिष्ठ वर्ग की भाषण प्रतियोगिता तथा प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता हुई। इस अवसर पर हिन्द युग्म के वरिष्ठ साहित्यकार श्री प्रेमचन्द सहजवाला मुख्य अतिथि रहे। शहर के जाने माने कवि व्यथित जी, अध्यापिका कुसुम, हिन्द युग्म के निखिल आनन्द गिरि तथा पत्रकार श्री अनिल बेताब जी निर्णायक रहे।
भाषण प्रतियोगिता में हरमन माइनर की आरूषी तथा मॉडर्न स्कूल नाएडा की आकाँक्षा प्रथम रही तथा मॉडर्न स्कूल फरीदाबाद की भवानी द्वितीय व रजत तृतीय रहे।
इस समस्त कार्यक्रम की मूल प्रेरणा विद्यालय के निदेशक श्री एस डी जैन हैं। विद्यालय की प्रधानाचार्या श्रीमती नीलिमा जैन जी ने सहर्ष कार्यक्रम आयोजन कराया तथा सबका उत्साह बढाया। हिन्द-युग्म की ओर से विजित
बच्चों को डॉ॰ अहिल्या मिश्र का कथा-संग्रह 'फाँस की काई' दिया गया। हिन्द-युग्म मॉडर्न स्कूल फरीदाबाद
सैक्टर १७ की प्रधानाचार्या जी का हृदय से आभार व्यक्त करता है।

कार्यक्रम-आयोजकः शोभा महेन्द्रू, मॉडर्न स्कूल फरीदाबाद


शोभा महेन्द्रू (दायें से दूसरे स्थान पर)


शिवानी सिंह


प्रेमचंद सहजवाला
















आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

9 पाठकों का कहना है :

शैलेश भारतवासी का कहना है कि -

शोभा जी,

आपने बहुत ही सुंदर आयोजन कराया। आपके विद्यालय में हिन्दी के नाम पर इतना कुछ हुआ। बहुत से विद्यालयों में तो कुछ नहीं होता।

रंजना [रंजू भाटिया] का कहना है कि -

बहुत अच्छा लगा देख कर यूँ ही आगे बढे ..शोभा जी का बहुत बहुत धन्यवाद जो इस तरह हिन्दी और बाल उद्यान को बढावा दिया ..

कुमार आशीष का कहना है कि -

सुन्‍दर आयोजन। समस्‍त आयोजकों, अनुचरों और सम्मिलित बच्‍चों को बधाई। चित्रावली पसंद आयी।

Anonymous का कहना है कि -

mujhe es ayeojan ke bare mein dekh aur padh kar bauhat aanad aya

Unknown का कहना है कि -

हिन्दी दिवस के जगह मनाया हिन्दी का सप्ताह
वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह

चित्रो ने फिर मुग्ध किया मैं कब से रहा सराह
वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह

हिन्दी हित में रहे निरन्तर हम सब की यही चाह
वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह

भूपेन्द्र राघव । Bhupendra Raghav का कहना है कि -

हिन्दी दिवस के जगह मनाया हिन्दी का सप्ताह
वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह

चित्रो ने फिर मुग्ध किया मैं कब से रहा सराह
वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह

हिन्दी हित में रहे निरन्तर हम सब की यही चाह
वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह शोभा जी वाह

निखिल आनन्द गिरि का कहना है कि -

इस पूरे कार्यक्रम में हिन्दयुग्म छाया रहा....शोभा जी का बहुत बड़ा योगदान था...हिन्दयुग्म उनका विशेष आभारी है....
सादर,
निखिल

Rajesh का कहना है कि -

Very nice Shobhaji, Aap ki Modern School ke dwara manaye gaye Hindi Saptaah ke avsar per main aap sabhi ka abhinandan karta hoon aur is samuche programem ko itni achhi tarah se aap ne su-sanchalit kiya, aap ko tahe dil se haardik badhaayiaan.

अविनाश वाचस्पति का कहना है कि -

बहुत सुंदर हिन्‍दी सप्‍ताह का आयोजन
शोभा जी ने मॉडर्न स्‍कूल में हिंदी की
शोभा बढ़ा दी, बधाई।

डॉ. अहिल्‍या मिश्र हैदराबाद की साहित्‍यकार हैं, इनसे एक बार हैदराबाद के एक समारोह में मिलना हो चुका है। इनकी पुस्‍तक को इनाम स्‍वरूप दिया जाना मन को मोह गया।

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)