Tuesday, March 3, 2009

नीति और सुमित को सबसे बड़ा पहलवान घोषित किया गया है |

नीति और सुमित को सबसे बड़ा पहलवान घोषित किया गया है |

आप लोगो का उत्साह और रूचि नित नए -नए प्रयोग करने का हौसला देती रहती है ,
इस बार सभी लोगों को पहलवान मान लिया गया है ,प्रयास तो सभी ने किया ही न

पहेलियों के उत्तर कुछ इस प्रकार हैं
\
\
\
\
\
\
\
\
\
\
\
\
\
१)खजूर
२)आम
३)अखरोट
४)अंगूठी (सुमित जी हैंडपंप या नलका हरगिज नहीं )
५)रोटी

आप सब लोग बताएं कि आप पहेलियाँ सप्ताह में कितनी बार चाहते हैं ,आप इस पर अपने सुझाव भी भेजें ,नाजिम जी आप नाराज हो गए हैं शायद ,आचार्य जी और विनय जी से भी गुजारिश है कि हमारे बाल उद्यान को अपनी उपस्थिति का आशीर्वाद अवश्य दे |


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

11 पाठकों का कहना है :

dschauhan का कहना है कि -

नीतिजी और सुमितजी को सबसे बड़ा पहलवान घोषित होने पर आपको हार्दिक बधाई! सप्ताह में कमा से कम एक्बार अवश्य ही पहेलिया बुझाएँ ताकि कभी हम भी पहलवान बन सकें! शुभकामनाएँ!

neelam का कहना है कि -

dschauhan ji ,
aap kahaan the janaab is baar ,aapne to akhaade ke aas paas aane ki bhi jahmat nahi ki ?????????????????????

manu का कहना है कि -

नाजिम जी व्यस्त होंगे नाराज नहीं हो सकते,,,
नाराज तो हम हैं,,,,,,,अब के हमारे नाम का बैन्नेर नहीं लगा....::::::::::)))))))))
होर्डिंग पर अपना नाम छपवाने के लिए ही तो तीन बार ऐनी माउस बन ने के बाद bhi ,, ओपन हुआ,,,,
खैर विजेताओं को बधाई....ख़ास कर सोनी जी को,,,,कल हमने पूरे दिन घर छान मारा के ऐसी क्या चीज है जो हमारे पास है.....पेट में ऊँगली ,,सर पे पत्थर,,,???
घरवाले भी हमसे दुखी हो गए....पर हमारी दिव्या दृष्टि अपनी उंगली पर ही नहीं पड़ी,,,,,,
:::::::((((((((((

neeti sagar का कहना है कि -

मनु जी आप अखाडे में कूदे कहाँ? आपने तो छुप-२ कर वार किये!शायद इसलिए आपके नाम का बैनर नहीं लगा.खैर ...अगली बार लग जाये शायद...

सीमा सचदेव का कहना है कि -

नीलम जी यह क्या आप स्वयं ही नियम बनाते हैं और स्व्यं ही तोड भी देती हैं |
अब देखिए न आपने स्वयं ही लिखा कि उत्तर न बताने वाले को मूर्ख घोषित किया जाएगा |
और हमने यह सोचकर कि चलो हम कम से कम इस उपाधि पर तो कब्जा जमा ही लेन्गे ,
कोई उत्तर नहीं दिया और आप हमें भूल गईं , बहुत दुख हुआ जानकर |
बाल-उद्यान पर रोचक सामग्री के लिए धन्यवाद |

neelam का कहना है कि -

seema ji ,
humaara kahna tha ki jo yahaan aayega aur jawaab nahi dega use moorkh kahenge ,magar dekhiye sab ne kaise badh chad kar bhaag liya to kaise ?????????
manuji ko ne kuch dusre tarah ki patrebaajji ki isliye unhe to nirast hi kar dena tha ,par bachchon ki duniya me to koi kisi ka dil n dukhaaye to hi achcha hai n ,agli baar aapko apni upastithi
jaroor darj karaani hogi ,kisi bhi khitaab ko paane ke liye ,

sumit का कहना है कि -

dschauhan जी,
बधाई के लिए धन्यवाद
नीलम जी,
सबसे पहले तो इस उपाधि के लिए धन्यवाद और जैसा कि आपने पूछा ये पहेलिया सप्ताह मे कितनी बार होनी चाहिए
मेरी राय मे ये कम से कम एक बार तो होनी ही चाहिए और जितनी ज्यादा बार हो उतना अच्छा

सुमित भारद्वाज

sumit का कहना है कि -

dschauhan जी,
बधाई के लिए धन्यवाद
नीलम जी,
सबसे पहले तो इस उपाधि के लिए धन्यवाद और जैसा कि आपने पूछा ये पहेलिया सप्ताह मे कितनी बार होनी चाहिए
मेरी राय मे ये कम से कम एक बार तो होनी ही चाहिए और जितनी ज्यादा बार हो उतना अच्छा

सुमित भारद्वाज

आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल' का कहना है कि -

सुमित-नीति ने जीत ली, बौद्धिक कुश्ती आज.

मनु जी तो हर क्षेत्र में, पहन चुके हैं ताज.

दूर हुआ तो क्या हुआ, मीठा लगे खजूर.

खास-खास को छोड़कर खाएं आम हुज़ूर.

चोट बचा अखरोट खा, पहन अंगूठी घूम.

रोटी ने ही जगत में मचा रखी है धूम.

'सलिल' नहीं संतोष से, बेहतर कोइ चीज.

जिसे नहीं संतोष हो, कहलाता नाचीज.

neelam का कहना है कि -

सलिल जी ,क्या बात है ,इतने अच्छे तरीके से उत्तरों को एक धागे में पिरोने के लिए साधुवाद

neelam का कहना है कि -

soni ji ,
antim magar sabse pratibhaaban dikhe aap sabse jyaada paheliyaan aapne hi bujhaai
magar hum der se dekh paaye .agli baar thoda jaldi aayiye .

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)