Friday, March 13, 2009

कभी न भूलो

कभी न भूलो

उदाहरण प्रस्तुत करना उपदेश देने से अच्छा है
( एक अंग्रेजी कहावत )


प्रशंसा के भूखे यह सिद्ध करते हैं कि उनमे योग्यता का अभाव है |
(प्लूटो )


उठो ,जागो और तब तक न रुको जब तक तुम्हे लक्ष्य की प्राप्ति न हो |
(स्वामी विवेकानंद )

ज्ञान एकता लाता है ,अज्ञान विभाजन
(राम कृष्ण परमहंस )


अपनी कमियों और अक्षमता से मिली असफलता के लिए भाग्य को दोष मत दो |
(जरथूस्त्र )

संकलन
नीलम मिश्रा


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

8 पाठकों का कहना है :

सीमा सचदेव का कहना है कि -

नीलम जी आपने बहुत सुन्दर विचार
याद दिलाए | एक विचार मै भी देना
चाहती हूँ कि क्यों न बाल-उद्यान पर हर रोज एक
आज का विचार एक कॉलम में दिया जाए |हर रोज स्कूल में
भी तो बच्चों को ऐसा विचार प्रस्तुत करने के लिए कहा जाता है ,
फिर क्यों न ऐसी सामग्री बाल-उद्यान पर उपलब्ध कराई जाए|

शोभा का कहना है कि -

बिल्कुल सही लिखा नीलम जी। सुन्दर विचार देने के लिए आभार।

आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल' का कहना है कि -

चाहें अगर सुधारना, हम अपना आचार.

नित्य पढें हम बेझिझक, अच्छा कोई विचार.

सद्विचार को मानिये, सुरभित-सुन्दर फूल.

शोभा-रस है अपरिमित, किंतु नहीं हैं शूल.

नीलम सा अनमोल है, सद्विचार लें जान.

सीमा इसकी अमित है, सेख 'सलिल' पा ज्ञान.

आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल' का कहना है कि -
This comment has been removed by the author.
संगीता पुरी का कहना है कि -

अच्‍छी बातों का संकलन किया है ... धन्‍यवाद।

sumit का कहना है कि -

हमे अच्छे विचारो कुछ ना कुछ से सीखने को मिलता है, और छोटे बच्चो को बहुत अधिक लाभ होता है इन्ही विचारो से वो भविष्य मे अच्छे नागरिक बनेंगें

सुमित भारद्वाज

sumit का कहना है कि -

हमे अच्छे विचारो कुछ ना कुछ से सीखने को मिलता है, और छोटे बच्चो को बहुत अधिक लाभ होता है इन्ही विचारो से वो भविष्य मे अच्छे नागरिक बनेंगें

सुमित भारद्वाज

neelam का कहना है कि -

seema ji der se uttar dene ke liye chamapraarthi hoon ,bahut kuch naya karna hai,apne is bal udyaan par jo aapke sahyog ke bina sambhav hi nahi hai ,is vishay me jaldi hi aapse baat hogi

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)