Monday, March 23, 2009

अथ श्री पहेलियाँ स्य उत्तर: नम:

अथ श्री पहेलियाँ स्य उत्तर: नम:
सीमा जी हम सब आपसे बेहद नाराज हैं ,आप कितनी भी कोशिश कीजिये हम नहीं मानने वाले ,
आपके उत्तर कहाँ है ????????अंसडइया (eyes)छाला पड़ गया ,उत्तर का पंथ निहार
१)नींद
२) पुस्तक
३) कोट
४) कागज़
५)चीनी
आचार्य जी की (श श श )सहमति से राघव जी को मिस्टर इंडिया घोषित किया जाता है


नीति और सुमित दोनों को सबसे उदंड प्रतिभागी घोषित किया गया है (हमेशा ध्यान मनु जी के उत्तर पर रखने के कारण )

सबसे नटखट बालिका के तौर पर हम अजित गुप्ता जी को रखते हैं

सबसे अच्छा मॉनिटर हमारी पहेलियों की कक्षा का सर्वसम्मति से शन्नो जी को बनाया गया है

बड़े दुःख के साथ आज आप सभी को यह राज बताना ही पड़ रहा है कि मनु जी वाकई मंदबुद्धि हैं (सिर्फ हा हा हा ,ही ही ही हु हु हु )

विनय जी वाकई अच्छे इंसपेक्टर ऑफ़ बाल उद्यान घोषित किये गए हैं


चौहान जी और स्वपंदर्शी (dreamer ji )सबसे अच्छे व् ईमानदार प्रतिभागी हैं

आचार्य जी ने इसे स्वीकार कर लिया है ,और हमे प्रेषित करने की आज्ञा दे दी है

हमने न्याय कर दिया है ,फिर भी आपकी राय सिर आँखों पर
नीलम मिश्रा




आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

5 पाठकों का कहना है :

manu का कहना है कि -

ही,,,ही,,हीई

मुझ सहित सभी प्रतिभागियों को ओंकी ओंकी उपाधि मुबारक हो,,,,
सीमा जी शायद अपना नाम बैनर पर देखना चाहती होंगी,,,,इसीलिए शायद जवाब न दिया हो,,,?
मोनिटर शन्नो जी हो, या नीलम जी,,,,,,
कोई फर्क नहीं पड़ता,,,,क्युनके मुझे इन दोनों में ही कोई फर्क नहीं लगता,,,,, दोनों से डर लगता है,,,::::::::::::)))))))))))))

{यदि आप दोनों में से कोई भी अगर एक अनाम कमेंट दे दे ,,,,,तो किसी को भी कन्फ्यूजन हो सकता है,,,) कम से कम मेरा तो यही सोचना है,,,,,

manu का कहना है कि -
This comment has been removed by the author.
shanno का कहना है कि -

सब लोगों को मनु जी की बुद्धि की तारीफ़ करनी चाहिए कि वह नक़ल भी करने में असमर्थ हैं, इससे किसी को क्लास में खतरा नहीं है उनसे.
मनु जी की हा..हा..ही..ही से क्लास में रौनक भी रहती है(पर मेरे कहने का तात्पर्य यह नहीं है कि मैं उन्हें encourage कर रही हूँ कि वह अपनी हरकतों से क्लास में कुछ नटखट और ईमानदारी से बेईमानी करने वाले लोगों को nervous breakdown देने लगें). नीलम जी की आज्ञा (बिना मांगी या दी हुई) से आचार्य जी के क्लास से गायब रहने या उनके बिलम्ब से आने की स्थिति में मैं ईमानदारी से सब पर आँख रखने की पूरी कोशिश करूंगी. आशा है कि मनु जी को इससे कोई आपत्ति या कोई कष्ट नहीं होगा. पर कुछ ऐसा महसूस कर रही हूँ कि मनु जी को कुछ तकलीफ सी होने लगी है(और मना रहे हैं कि monitor भी कभी-कभी क्लास से आचार्य जी की तरह गायब हो जाए). tough luck! बैसे जाते-जाते इस बार के खिताब के लिए धन्यबाद कहना चाहती हूँ. अगली बार मेरा क्या हाल होगा, पता नहीं.

shanno का कहना है कि -

नीलम जी,
आपने और आचार्य जी ने मिलकर जो भी परिणाम घोषित किये हैं वह हम सबकी भी सर आँखों पर. लेकिन उसमें थोड़ी सी शंका है. और वह यह कि चौहान जी और dreamer जी ने कुछ गड़बडी की है अपने-अपने उत्तरों में. जरा धयान से देखिये शायद कुछ आपको भी बेईमानी की गंध आये. या चलिए दोनों को माफ़ करते हैं. आपका ध्यान इस तरफ आकर्षित करना मैंने अपना फ़र्ज़ समझा. और अब मनु जी जरूर यह सब जानकर परम-हर्षित होंगें और फिर: हा हा...ही ही...

sumit का कहना है कि -

अरे वाह मुझे फिर से एक उपाधि मिली

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)