Wednesday, March 11, 2009

प्रणव गौड़ 'कुश' की होली



जी हाँ, यह पेंटिंग बना भेजी है प्रणव गौड़ 'कुश' ने, जो हर त्योहार पर हमें कोई न कोई चित्र अपनी नन्ही कूँची से बना भेजते हैं।





आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

5 पाठकों का कहना है :

संगीता पुरी का कहना है कि -

बहुत सुंदर ... होली की ढेरो शुभकामनाएं।

manu का कहना है कि -

कुश बेटे, बहुत ही अच्छा लगा आपकी पेंटिग के साथ आपकी होली वाली फोटो देख कर
तुम को और परिवार को होली की मुबारकें,,,,,,,,,,,,

आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल' का कहना है कि -

कुश! खुश तुमने कर दिया, भेजा सुन्दर चित्र.

होली की रंगरेलियाँ, सबको मोहो मित्र.

सबको मोहे मित्र, चित्र सबको भाते हैं.

होली में हो मस्त सभी रंग बरसाते हैं.

होली का आनंद अनूठा पाया हमने.

चित्र भेज कर किया 'सलिल' को खुश कुश तुमने.

neelam का कहना है कि -

holi bahut bahut mubaalak ho ,kush beta .itni sundar drawing banaayi ,aul usse bhi sundal aapki sundal si photo .

happy holi kush beta ,god bless u

aapki photo dekhkar hume aapse baat karne ka man kalta hai .

sumit का कहना है कि -

अच्छी चित्रकारी है कुश
घर मे सब को होली की हार्दिक शुभकामनाए कहना

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)