Sunday, January 27, 2008

बाल-उद्यान में चित्रकला आयोजन

बच्चों आप सभी को मेरा प्यार भरा नमस्कार...कल 26 जनवरी के शुभ अवसर पर हमने एक बाल-उद्यान की तरफ़ से चित्रकला का आयोजन किया...बच्चों के साथ यह मेरा पहला अवसर था जब उनके अन्दर छिपे मनोभावों को कागज पर साकार रूप में देखने का स्वर्णिम अवसर मुझे प्राप्त हुआ...


यह आयोजन मै और एक अध्यापक जो बच्चों को कोचिंग देते है उनके सहयोग से हुआ...
आयोजन प्रारम्भ करते समय हमने सोचा था कि क्या हम सफ़लता से कर पायेंगे...क्योंकि हमारे पास न बैनर था न ही कोई और सहयोगी...मगर कुछ नन्हे मुन्नो ने मिलकर बैनर बनाया तो मेरी खुशी का पारावार न रहा... जरा देखिये हिन्द-युग्म बस गलत लिखा गया मगर यह बैनर साँतवी कक्षा के कुछ बच्चों ने मिलकर बनाया है...

जब हमने गुलाबी बाग के खूबसूरत बगीचे में डेरा जमाया तो कुछ और अध्यापक व अध्यापिकायें हमारे साथ शामिल हो गये जिनका सहयोग सचमुच सराहनीय था...और तो और वहाँ के कुछ वाशिन्दे भी हमारे सहयोग को आगे आ गये...छुट्टी की वजह से अच्छा-खासा भीड़-भड़क्का हो गया...

देखते-देखते हमारे पास कुल 50 बच्चों के नाम एकत्र हो गये...जिसमे कुछ पाँचवी कक्षा के तो कुछ बारहवी कक्षा के थे...
बच्चो को नेट से अवगत करवाया...हिन्द-युग्म बाल उद्यान के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई...बच्चो ने इस अभियान में पूरी इमानदारी के साथ भाग लिया...







कुमारी राहत भी बच्चों को पढ़ाती है उन्हे बच्चों की गिनती का काम सौंपा गया और उन्होने यह जिम्मेदारी बखूबी निभाई...

और बच्चों के साथ बडे भी आ गये...






कार्यक्रम शुरू हुआ...कोई भी बच्चा किसी भी विषय पर कुछ भी बना सकता है...जानकर बच्चों ने रंगों के साथ खेलना शुरू कर दिया...

















...
जबतक इनामो की घोषणा की जाती हमने सभी उपस्थित लोगो को जो देखने भी आये थे,और बच्चों को चाय नाश्ता करवाया... सभी को इनाम की प्रतिक्षा थी...बेसब्री से सब बैठे हुए थे...

हर बच्चे के लिये हमने एक पेन इनाम के रूप में रखा था ताकि कोई भी बच्चा निराश न हो...
इमान के साथ प्रथम,द्वितीय और तृतीय को हिन्द-युग्म की तरफ़ से एक-एक प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किया गया...
(युक्ति कुमारी...१३ साल ने प्रथम स्थान प्राप्त किया)

(निकिता रावत...१२ साल ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया)

(हेमन्त १० साल ने तृतीय स्थान प्राप्त किया)



(ख्याति मलिक...१३ साल ने तृतीय स्थान प्राप्त किया)




(सहयोगी टीम-श्री पवन चोटिया,कुमारी राहत,श्रीमती सुनीताशानू(चोटिया)श्री सौरभ अग्रवाल,श्री अशोक तिवारी)


यह बीच में तीन इनामी बच्चे है जो युग्म के साथ जुड़ना चाहते है...दो छोटे बच्चे इनाम लेते ही आयोजन छोड़ कर भाग खड़े हुए...उन्होने तस्वीर खिचवाना भी गवारा नही समझा...:)

तो बच्चों से हम अलविदा लेते है...इस प्रकार के आयोजन हम निरन्तर करते रहेंगे...इसी आशा के साथ आप सभी को गणतंत्र दिवस की ढेरों शुभ-कामनायें...
सुनीताशानू


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

11 पाठकों का कहना है :

रंजू का कहना है कि -

बहुत ही अच्छा प्रयास सुनीता जी ..बधाई जीतने वाले बच्चों को भी और आपको भी ऐसे सफल आयोजन के लिए !! जितने अधिक से अधिक बच्चे बाल उद्यान से जुडेंगे उतना इस में लिखना सार्थक लगेगा !!

शैलेश भारतवासी का कहना है कि -

हिन्द-युग्म की दोनों सुनीता ने असल में काम किया है। जन-जन तक पहुँच बढ़ाने के लिए और अपने उद्देश्यों को सच में पूरा करने के लिए इस तरह के आयोजन आवश्यक हैं। आपको बहुत-बहुत बधाई।

Alpana Verma का कहना है कि -

हिन्दयुग्म और सुनीता जी आप के इस सफल आयोजन के लिए आप को बधाई और भविष्य के लिए शुभकामनाएं.
इनाम पाने वाले तीनों बच्चों को भी मुबारकबाद.
इनामी चित्र हमें भी यहाँ देखने को मिल पाएंगे ऐसी आशा करते हैं.

sahil का कहना है कि -

सुनीता जी बहुत ही बढ़िया प्रयास.सभी विजेताओं को मुबारकबाद और सबसे अधिक आपको धन्यवाद की आपने भविष्य के करता धर्ताओं को ऐसा मंच प्रदान किया.
आलोक सिंह 'साहिल'

सजीव सारथी का कहना है कि -

मुझे तो फ़िल्म तारे ज़मीन पर याद आ गयी, अच्छे आयोजन के लिए बधाई आपको, पवन जी और पूरी टीम को, और उन बच्चों से मिलने के लिए बेताब हैं जो बाल उधान से जुड़ना चाहते हैं, यूहीं अच्छे प्रयासों में सक्रिय रहिये, हम सब मिलकर कुछ न कुछ कर गुजरेंगे

tanha kavi का कहना है कि -

सुनीता जी,
चित्रकला आयोजन की सफलता के लिए बधाई स्वीकारें।

-विश्व दीपक 'तन्हा'

रचना सागर का कहना है कि -

सुनिता जी बहुत अच्छा प्रयास, और सभी प्रतिभागियो को बहुत बहुत बधाई

अवनीश एस तिवारी का कहना है कि -

इस सराहनीय काम के लिए बधाई |


अवनीश तिवारी

Bhupendra Raghav का कहना है कि -

सुनीता जी,

बहुत ही सराहनीय काम युग्म-हित में
बहुत बहुत बधाई आपको एवं सभी ग्वाल-बालों को

kavi kulwant का कहना है कि -

सुनीता जी एवं उनके सभी सहयोगियों को मेरी ओर से हार्दिक बधाई.. इस खूबसूरत कार्यक्रम के लिए...

Gita pandit का कहना है कि -

सुनीता जी,

चित्रकला आयोजन के लिए बधाई |

जीतने वाले बच्चों को भी
बधाई

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)