Friday, October 12, 2007

आओ सीखें

प्यारे बच्चों,

जीवन में अच्छी बातों का बेहद महत्व है। आओ कुछ अच्छी बातें सीखें:

1) तुम्हें अपने दाँत नीयमित रूप से साफ करने चाहिये, वह भी दिन में दो बार। सुबह सो कर उठते ही और फिर रात सोने से पहले...





2) आपके नाखून बडे नहीं होने चाहिये। इन्हें नीयमित काटें। लम्बे नाखून गंदगी और कीटाणुओं का घर बन जाते हैं और फिर आपको बीमार कर सकते हैं।





3) खाना हमेशा उतना ही लेना चाहिये जितनी आपको भूख हो। अन्न खाने की प्लेट पर छोडना उसे बरबाद करना है।





4) रात जल्दी सोना और सुबह जल्दी उठना एक अच्छी आदत है। यह आपको स्वस्थ रखती और और आलसी बच्चा कहलाना तो आप पसंद नहीं करोगे? है न?





5) सोने से पहले भगवान की प्रार्थना करना मन को शांत करता है और फिर मीठी मीठी नींद भी आती है।





6) बच्चों किसी से बात करना भी एक कला है। आप जितना मीठा बोलोगे, लोग आपसे भी उतना ही मीठा बरताव करेंगे। किसी से चिल्ला कर बात करना अच्छी आदत नहीं मानी जाती।





इन बातों को अपने जीवन में उतार कर देखो जल्दी ही अपने मम्मी-पापा-टीचर और दोस्तों के प्रिय हो जाओगे। आप भी यही चाहते हो न?




आप सबको ढेर सारा प्यार
आपकी
अनु दीदी


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

10 पाठकों का कहना है :

रचना सागर का कहना है कि -

अनुपमा जी...
बच्चो को इतनी अच्छी सीख देने के लिये बहुत बहुत धन्यवाद...
बहुत सुंदर जानकारी याद दिलायी...

मोहिन्दर कुमार का कहना है कि -

अनुपमा जी,

कुछ बातें ऐसी होती हैं जो सब जानते हैं मगर कामचोरी के चक्कर में सेहत भूल जाते है... शुक्रिया आप का याद दिलाने के लिये... बच्चों के लिये बडे काम की चीज है...( प्रेकटिस मैयूरिंग इन टू हेबिट विद टाईम)

राजीव रंजन प्रसाद का कहना है कि -

अनुपमा जी,

बहुत ही शिक्षाप्रद है। डाईरेक्ट इंस्टरक्शन भी लर्निंग का अच्छा मैथर्ड है। साथ संलग्न चित्र बच्चों को आपकी प्रदत्त सीख समझने में मदद कर रहे हैं।

एक अच्छी प्रस्तुति, बाल उद्यान पर।

*** राजीव रंजन प्रसाद

रंजू का कहना है कि -

वाह अनुपमा जी बहुत ही मजेदार तरीके से आपने यह बताया
चित्र भी सुंदर लगाए हैं ...धन्यवाद

praveen pandit का कहना है कि -

@gmail.com अनुपमा जी!

अच्छा किया,फिर से याद करा दिया। और बहुत ही अच्छे तरीक़े से कराया।
बच्चे हैं, भूल जाते हैं ना।

सस्नेह

प्रवीन पंडित

Bhupendra Raghav का कहना है कि -

अनुपमा जी,

बहुत अच्छी अच्छी जानकारी आपने दी, बच्चों को निश्चित ही स्वास्थलाभ मिलेगा..

बहुत बहुत धन्यवाद

Udan Tashtari का कहना है कि -

इसमें से बहुत सी बातें तो बड़ों को सीखना भी बाकी हैं. बढ़िया सलाह दी बच्चों के लिये, बधाई.

tanha kavi का कहना है कि -

अनुपमा जी,
बहुत सारी शिक्षाप्रद बातें बताई हैं आपने। इस पर बच्चों के साथ बड़ों को भी अमल करना चाहिए।आगे ऎसे हीं अच्छी-अच्छी बातें बताते रहियेगा।

-विश्व दीपक 'तन्हा'

श्रीकान्त मिश्र 'कान्त' का कहना है कि -

अनुपमा जी !

बच्चे तो बच्चे कई बार बड़े भी बहुत सी बचपन की
शिक्षाओं की पुनरावृत्ति का आनन्द उठाते हैं आप की
ऐसी ही शिक्षाप्रद रचनाओं की बालउद्यान को प्रतीक्षा
रहेगी

बधाई स्वीकार करें

Gita pandit का कहना है कि -

अनुपमा जी...

बहुत सुंदर......
बच्चों के लिये बडे काम की जानकारी ....इतनी अच्छी सीख बच्चो को देने के लिये ..

धन्यवाद...

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)